पाक से नाखुश सुषमा: कुलभूषण जाधव से मिलना चाहती हैं मां, सरताज अजीज ने नहीं दिया पत्र का जवाब

sushma swaraj

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष सरताज अजीज की ओर से शिष्टाचार की कमी दिखाए जाने पर निराशा जाहिर की। कुलभूषण जाधव की मां पाकिस्तान जाकर अपने बेटे से मिलना चाहती हैं, इस संबंध में सुषमा स्वराज ने सरजाज अजीज को वीजा पत्र लिखा था जिस पर सरताज अजीज ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।
आपको बता दें कि जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की एक अदालत ने सुनवाई का मौका दिए बिना ही कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाई थी। इस पाकिस्तान के इस फैसले के विरोध में भारत सरकार ने अंतरराष्‍ट्रीय न्यायालय (icj) में कोर्ट में याचिका दायर की थी। अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने पाकिस्तानी अदालत के फैसले पर रोक लगाते हुए अगली सुनवाई तक जाधव की सजा पर रोक लगा दी थी।
हालांकि, उन्होंने अजीज को आश्वासन दिया कि यदि कोई पाकिस्तानी नागरिक भारत आने के लिये उनकी सिफारिश पर मेडिकल वीजा की मांग करता है तो उसे तुरंत वीजा दिया जायेगा।
सरताज अजीज के इस गैर जिम्मेदाराना रवैया पर हैरानी जताते हुए सुषमा स्वराज ने कई ट्वीट किए। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, भारत में अपने उपचार के लिये वीजा की मांग करने वाले सभी पाकिस्तानी नागरिकों के प्रति मेरी सहानुभूति है। हमारे लिये पाकिस्तानी नागरिकों की मेडिकल वीजा को स्वीकति प्रदान करने से संबद्ध उनकी सिफारिश आवश्यक है।

However, Mr.Aziz has not shown the courtesy even to acknowledge my letter. /8
उन्होंने कहा कि भारतीय नागरिक अवंतिका जाधव का वीजा आवेदन लंबित है, जो पाकिस्तान में अपने बेटे से मिलना चाहती हैं। पाकिस्तान के रवैये से नाराज सुषमा स्वराज ने एक के बाद एक नौ ट्वीट किए।
उन्होंने टवीट किया, पाकिस्तान जाने के लिए उनके (अवंतिका के) वीजा की स्वीकति के लिये मैंने व्यक्तिगत तौर पर श्रीमान सरताज अजीज को पत्र लिखा। लेकिन श्रीमान अजीज ने मेरे पत्र पर संज्ञान लेने तक का शिष्टाचार नहीं दिखाया।

We also have a visa application pending for an Indian national Mrs.Avantika Jadhav who wants to meet her son in Pakistan /5

जाधव (46) को पिछले साल पाकिस्तान के अशांत बलूचितस्तान में कथित तौर पर गिरफ्तार कर लिया गया था। पाकिस्तानी सैन्य अदालत ने जासूसी एवं आतंकवाद के आरोप में उन्हें मत्युदंड की सजा सुनायी है।

Popular posts from this blog

शिकंजा: जानिए मुजफ्फरनगर से अरेस्ट हुए आतंकी संदीप के बारे में सब कुछ

Uttarakhand: After heavy comments on Baba Kedarnath, heavy tension in Satpuri